Wednesday, 21 June 2017

पूर्वांचल विश्वविद्यालय में मना योग दिवस



जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के मुक्तांगन  में तृतीय अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाए गया. योग दिवस के अवसर पर योग आचार्य अमित  आर्य ने कॉमन प्रोटोकॉल  के तहत योगाभ्यास करवाया। उन्होंने योग के लाभों  पर भी  विस्तार पूर्वक  चर्चा की ।
बतौर मुख्य अतिथि मध्य प्रदेश सरकार के दर्जा प्राप्त कैबिनेट मंत्री समन्वय सेवा केंद्र आश्रम जबलपुर के महामंडलेश्वर स्वामी श्री अखिलेश्वरानंद जी ने  कहा कि आज पूरी दुनिया योग के प्रति नतमस्तक हो  गई है. हम अपनी योग की आंतरिक शक्ति को केंद्रित कर अनुभव करें तो वे सारे दृश्य  आंख के  सामने आ रहे हैं कि पूरी दुनिया योगं  शरणम गच्छामि कहते हुए आज महर्षि पतंजलि के प्रति अपनी  कृतज्ञता प्रकट कर रही है.उन्होंने कहा कि योग करने वाला व्यक्ति जीवन भर स्वस्थ रहता है. अपने अध्यक्षीय  संबोधन में कुलपति प्रोफेसर डॉक्टर राजाराम यादव  ने कहा कि हमारा देश अध्यात्मिक राष्ट्र है इसलिए हम विश्व गुरु हैं. सम्पूर्ण विश्व का मार्गदर्शन हमारे सन्यासी  कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि योग पुरुष के अंदर असीम शक्ति होती है, इसका प्रकटीकरण समय- समय पर आवश्यकता के अनुसार वह करते हैं.  योग समिति के प्रभारी डॉ वी  डी शर्मा ने आभार एवं  संचालन संजय श्रीवास्तव ने  किया। इस अवसर पर वित्त अधिकारी एम के  सिंह, कुलसचिव डॉक्टर देवराज, प्रोफ़ेसर बीबी तिवारी, डॉ मनोज मिश्र, डॉ दिग्विजय  सिंह राठौर,  बी एल यादव, डॉ अवध  बिहारी सिंह,डॉ विवेक पांडे, डॉ के एस तोमर,एमएम  भट्ट, अशोक सिंह, रजनीश  सिंह, सुशील प्रजापति, इंद्रेश कुमार समेत विश्वविद्यालय के शिक्षक, कर्मचारी, विद्यार्थी एवं क्षेत्रवासियों ने  प्रतिभाग किया.












Tuesday, 20 June 2017

पूर्वांचल विश्वविद्यालय में निकली योग यात्रा

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में योग दिवस की पूर्व संध्या पर परिसर में योग यात्रा निकाली गई. विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि जबलपुर मध्यप्रदेश के सासमन्वय सेवा केंद्र आश्रम के महामंडलेश्वर स्वामी श्री अखिलेश्वरानंद जी महाराज एवं कुलपति प्रोफ़ेसर डॉक्टर राजाराम यादव ने हरी झंडी दिखाकर यात्रा प्रारंभ कराई। यात्रा में विश्वविद्यालय के अधिकारी, शिक्षक, कर्मचारी, विद्यार्थी एवं क्षेत्रवासी बड़ी संख्या में शामिल हुए.इसके पश्चात  मुक्तांगन  में सांस्कृतिक कार्यक्रमों में अपनी प्रस्तुति से कलाकारों ने लोगों का मन मोह लिया। 

कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि महामंडलेश्वर स्वामी श्री अखिलेश्वरानंद ने कहा कि योग से मन की शुद्धता होती है. इसे अपने जीवन से जोड़कर आनंद लें.आज पूरी दुनिया योग के प्रति समर्पित हो गई है. विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफ़ेसर डॉ राजाराम यादव ने कहा कि योग से हमें सकारात्मक सोच के साथ ऊर्जा मिलती है. हम सभी को अपनी दिनचर्या में योग को शामिल करना चाहिए। मुक्तांगन में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में अनामिका मिश्रा ग्रुप ने  श्रीराम स्तुति एवं पप्पू जौनपुरी ने गीत प्रस्तुत किया। पर्यावरण संरक्षण के लिए संदीप सोनी ने एकाकी नाटक की प्रस्तुति दी। राधा तेरी चुनरी गीत पर पीहू पालने नृत्य प्रस्तुत कर मन मोह लिया। इसके साथ ही शिव प्रकाश शुक्ला, डॉक्टर प्रवीण सिंह ,सृष्टि ,डॉक्टर सुभाष बिश्नोई, राजनारायण सिंह आदि ने भी अपनी प्रस्तुतियां दी. मुक्तांगन में कुलपति,अतिथियों एवं विश्वविद्यालय के अधिकारियों द्वारा पौधरोपण किया गया. कार्यक्रम का सञ्चालन संजय श्रीवास्तव एवं अशोक सिंह ने किया। इस अवसर पर वित्त अधिकारी एम के  सिंह, कुलसचिव डॉक्टर देवराज, परीक्षा नियंत्रक  संजीव सिंह, प्रो बीबी तिवारी,डॉक्टर बी डी शर्मा, डॉक्टर मानस पांडे, डॉक्टर मनोज मिश्र, डॉक्टर दिग्विजय सिंह राठौर, एम एम  भट्ट,  रजनीश सिंह, राजेश सिंह, श्याम त्रिपाठी सहित  तमाम लोग मौजूद रहे.